हमारा सफर, 2018

नये साल में नया मंथन ‘हमारा सफ़र’ के पाठकों को संगतिन किसान मज़दूर संगठन के सभी साथियों, सहयोगियों, और सह–यात्रियों की तरफ़ से नये साल की दिली मुबारकबाद। नये साल की हाड़–गलाती ठिठुरन में हम जब इस साल के लिए सपने संजोने बैठते हैं तो जहाँ एक ओर 2018 में दलित–शोषित मज़दूरों और किसानों केContinue reading “हमारा सफर, 2018”

Advertisement

हमारा सफर, 2019

दो शब्द वैसे तो ‘हमारा सफ़र’ अख़बार हमेशा संगठन के सामूहिक श्रम से बनता है, लेकिन यह अंक आपके हाथों में पहुंचाते वक़्त हम एक नायाब सुकून महसूस कर रहे हैं। वो इसलिए, कि हमारे इस अंक में पिरोये सारे विचार, कहानियाँ, बातें, और लफ्ज़ अनेक साथियों की साझी सोच और मेहनत से ही नहींContinue reading “हमारा सफर, 2019”